हमारे कर्मचारी

हर व्यक्ति का किसी भी संस्था में काम करने का उद्देश्य अलग – अलग हो सकता है| “जितने व्यक्ति उतनी प्रकृति” यह कहावत यथार्थ है| किंतु जासकैप के हमारे सारे कर्मचारी केवल अपनी ज़िम्मेदारी ही नहीं निभाते, ह्रदय से कैन्सर रोगियों की मदद करना चाहते हैं| कर्मचारी होने के बावजूद उनका कार्य करने का ढंग एक अनुरागी स्वयंसेवी का ही होता है| आप हमारे कर्मचारी और समर्पित स्वयंसेवी में कोई भेद नहीं देख सकते| हमारे कर्मचारियों ने कई रचनात्मक विचार दीए हैं और इसके लिए हम उन्हें हर समय प्रोत्साहित करते हैं| कर्मचारीयों और स्वयंसेवीयों में एक घनिष्ट परिवार जैसे संबंध बन गए हैं| वे आपस में एक दूसरे से हर समय विचार विनिमय कर, एक उत्तम तरीका ढुंढ निकालते हैं, जिससे जासकैप अपने उद्देश्य में निरंतर आगे बढता रहे| हम हमारे कर्मचारियों के दिल से किये हुए योगदान के लिए अत्यंत आभारी हैं|

हमारे कर्मचारी ये हैं :
श्री. के. व्ही. गणपती, एम्. एस. सी., एम्. बी. ए.
सु. श्री.  उमा जोशी, बी.एस.सी.
सु. श्री. सरोज राव
श्री. रमाशंकर यादव
श्रीमती सायली नवल्यू
श्री. विजय सौर